Sports

जब आज के दिन 2007 टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया ने बेंच पर काटा था पूरा दिन

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट को महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की कप्तानी में नया रंग मिला था, ये बात तो हर कोई जानता है. ये भी हर कोई मानता है कि टीम इंडिया के इस कायाकल्प की शुरुआत टी20 वर्ल्ड कप-2007 से हो गई थी, जहां भारतीय क्रिकेट के नवोदित युवाओं ने अपने खेल से देश को अपने परंपरागत प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को पीटकर विश्व खिताब से नवाज दिया था. लेकिन आपको पता है कि भारतीय क्रिकेट का नक्शा बदलने वाले इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का पहला मैच 13 सितंबर के ही दिन स्कॉटलैंड के खिलाफ खेला गया था. लेकिन इस पहले मैच में टीम इंडिया को क्रिकेट खेलने के बजाय घंटों तक ड्रेसिंग रूम की बेंच पर बैठने का सजा काटनी पड़ी थी.

मैच से पहले हो गई थी बारिश
दरअसल दक्षिण अफ्रीका की धरती पर 11 सितंबर को चालू हुए इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के उद्घाटन मुकाबले से पहले जबरदस्त बारिश हो गई थी. डरबन के मैदान पर स्कॉटलैंड के खिलाफ होने वाले इस मुकाबले के लिए टीम इंडिया के क्रिकेटर बेहद उत्साहित थे, क्योंकि गौतम गंभीर (GAUTAM GAMBHIR), युवराज सिंह (YUVRAJ SINGH), रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) और आरपी सिंह (RP Singh) का इस मैच के साथ ही क्रिकेट के इस सबसे छोटे संस्करण में डेब्यू होने वाला था.

स्कॉटलैंड ने जीत ली थी टॉस

डरबन स्टेडियम में इस मुकाबले को देखने के लिए भारी संख्या में दर्शक मौजूद हुए थे. इसके चलते आयोजक बारिश के बावजूद किसी भी तरह से मैच कराना चाहते थे. इसी कारण दोनों टीमों के कप्तानों को पिच पर बुलाकर टॉस भी करा दिया गया था. कप्तान धोनी टॉस में भाग्यशाली साबित नहीं हुए और स्कॉटलैंड के कप्तान रयान वॉटसन ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी करने का न्यौता दे दिया था. अब सभी को इंतजार मैच चालू होने का था.

मैदान में पानी सुखाया जाता रहा, टीम इंडिया बेंच पर “सूखती” रही
टॉस के बाद चालू हुआ मैदान को सुखाने का काम, लेकिन ग्राउंड स्टाफ जितना मैदान को सुखाता था, उतना ही बारिश दोबारा उसे गीला कर देती थी. इस दौरान टीम इंडिया और स्कॉटलैंड की टीम अपने-अपने ड्रेसिंग रूम में बेंचों पर बैठकर मैदान के सूखने का इंतजार करती रही. आखिरकार घंटों के प्रयास के बाद ग्राउंड स्टाफ ने हार मान ली और मैच को रद्द घोषित कर दिया गया. इस तरह टीम इंडिया के टी20 वर्ल्ड कप में पहले अभियान की शुरुआत ही खराब  रही. ये बात अलग है कि धोनी के चीते बाद में सभी टीमों पर ऐसे भारी पड़े कि खिताबी ट्रॉफी सीधे भारत आकर ही थमी थी.

महज दूसरा टी20 इंटरनेशनल मैच था ये भारत के लिए
ये भारतीय क्रिकेट टीम का महज दूसरा टी20 इंटरनेशनल मैच था. इससे पहले एकमात्र बार टीम इंडिया ने टी20 मुकाबला दक्षिण अफ्रीका के ही खिलाफ 2006 के दौरे पर जोहानिसबर्ग में खेला था, जिसमें टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को एक गेंद शेष रहते हुए 6 विकेट से पीटकर क्रिकेट के इस सबसे छोटे संस्करण में अपनी जोरदार शुरुआत की थी.

https://zeenews.india.com/hindi/sports/cricket/on-this-day-in-2007-t20-world-cup-team-india-punished-to-stay-on-bench/746684

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: