India

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल Jagdeep Dhankhar की कड़ी प्रतिक्रिया, बोले- ‘राज्य में संविधान की मर्यादा हुई तार-तार’

कोलकाता: पश्चिम बंगाल यात्रा के दौरान भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) पर हुए हमले के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) घिर गई हैं. बीजेपी (BJP) के आक्रोश और पश्चिम बंगाल में जनता द्वारा इस घटना की निंदा के बाद राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhar) ने मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है. राज्यपाल धनखड़ ने स्पष्ट कहा है कि लोकतंत्र का पालन हर किसी को करना होगा. उन्होंने ममता बनर्जी से सवाल किया है कि संविधान की आत्मा पर कब तक कुठाराघात करेंगी? साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में संविधान की मर्यादा तार-तार हुई है.

‘ममता मांगें माफी’
राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhar) ने ममता बनर्जी के बयान पर भी आपत्ति जताई है. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) को माफी मांगनी चाहिए. संविधान का पालन ममता बनर्जी को भी करना होगा. उन्होंने स्पष्ट कहा कि सरकार ने जेपी नड्डा को पूरी सुरक्षा नहीं दी. टीएमसी (TMC) कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार किए जा रहे हमलों को लेकर राज्यपाल ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि मैंने संविधान की रक्षा की शपथ ली है इसलिए बंगाल के लोगों को आश्ववस्त करना चाहूंगा कि मैं हर हाल में संविधान की रक्षा करूंगा.

यह भी पढ़ें: Farmers Protest की आड़ में चल रहा Khalistan Movement, Maharashtra Cyber Cell ने किया खुलासा; देखिए सबूत

डीजीपी, मुख्य सचिव तलब 
उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था (Law and Order) ध्वस्त हो चुकी है. कई बार डीजीपी को पत्र लिखे इसके बावजूद कोई असर नहीं है. अधिकारियों को सरकार के इशारे पर नहीं जनता के लिए काम करना चाहिए. अधिकारियों को नसीहत देते हुए कहा कि आप ‘पब्लिक सर्वेंट’ हैं, इसलिए अपने फर्ज को ईमानदारी से निभाना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर केंद्र को रिपोर्ट भेज दी है. हालांकि उन्होंने रिपोर्ट में क्या लिखा है यह तो नहीं बताया लेकिन इतना जरूर कहा कि रिपोर्ट बेहद गंभीर है. 14 को राज्य के डीजीपी और मुख्य सचिव को तलब किया है.  

‘बाहरी है और अंदरूनी का खेल खतरनाक’
राज्यपाल ने कहा कल हुई घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, हमारे लोकतांत्रिक ताने-बाने पर एक धब्बा है. दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र को शर्मिंदा किया गया है. राज्यपाल ने ममता बनर्जी से कहा , ‘मैडम भारत एक है, भारत की आत्मा और नागरिकता एक है. ये जो खतरनाक खेल है कि कौन बाहरी है और कौन अंदरूनी, आप इसको त्याग दीजिए. आपने संविधान के तहत काम करने की शपथ ली है.’

यह भी पढ़ें: JP Nadda के बाद अब Amit Shah जाएंगे बंगाल, 19-20 दिसंबर को करेंगे दौरा

बता दें कि गुरुवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के काफिले पर हमला हुआ था. इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय और मुकुलरॉय को चोट आईं. शाह पार्टी के एक कार्यक्रम के लिए डायमंड हार्बर जा रहे थे. बीजेपी ने इस हमले के पीछे तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कार्यकर्ताओं के हाथ होने का आरोप लगाया है. 

Source link

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: