बदलते मौसम में बढ़ जाती है Asthma के मरीजों की मुश्किलें, डाइट में इन चीजों को जरूर करें शामिल

नई दिल्ली: अस्थमा को दमा भी कहते हैं जो श्वसन तंत्र की बीमारी है और इसकी वजह से सांस लेना मुश्किल हो जाता है. अस्थमा की बीमारी में श्वसन मार्ग में सूजन आ जाती है जिससे वह संकुचित हो जाता है और बार-बार खांसी आती है, सांस फूलने लगती है, सांस लेते वक्त सीटी जैसी आवाज आती है और छाती में कसावट भी महसूस होने लगती है. अस्थमा (Asthma) के मरीजों के लिए सबसे बड़ी दिक्कत सीजन चेंज (Weather Change) के वक्त होती है. जब सर्दी से गर्मी का मौसम आ रहा हो या फिर जब गर्मी से सर्दी का मौसम आ रहा हो इस दौरान उनकी सांस उखड़ने लगती है और अस्थमा के अटैक (Asthma Attack) भी आ सकता है. ऐसे में अस्थमा के मरीजों को अपनी डाइट का पूरा ध्यान रखना चाहिए. क्या खाएं, क्या नहीं, आगे पढ़ें.

अस्थमा और खाने-पीने की चीजों के बीच है लिंक

वैसे तो कोई निश्चित डाइट नहीं है (Asthma Diet) जिसका सेवन अस्थमा के मरीजों को करना चाहिए लेकिन कई रिसर्च में यह बात सामने आयी है कि कुछ फूड्स ऐसे हैं जो फेफड़ों के फंक्शन को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं और इम्यून फंक्शन (Immune Function) को भी मजबूत बना सकते हैं जिससे अस्थमा के लक्षण कम हो सकते हैं. हालांकि खाने-पीने की कुछ चीजें ऐसी भी हैं जिनके सेवन से अस्थमा के लक्षण और बिगड़ सकते हैं. प्रोसेस्ड फूड की जगह ताजे फल और सब्जियां खाने से अस्थमा के मरीजों को बीमारी कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है.

ये भी पढ़ें- क्या चाय की भी लग जाती है लत, जानें बहुत अधिक चाय पीने के नुकसान

अस्थमा के मरीज क्या खाएं

1. विटामिन डी से भरपूर चीजें- अमेरिका के विटामिन डी काउंसिल की मानें तो 6 से 15 साल के उम्र के बच्चों में अस्थमा के अटैक को कम करने में मदद कर सकती हैं विटामिन डी (Vitamin D) से भरपूर चीजें. लिहाजा अस्थमा के मरीजों को सैल्मन मछली, दूध, विटामिन डी फोर्टिफाइड ऑरेंज जूस, अंडा आदि का सेवन करना चाहिए. हालांकि अगर आपको दूध या अंडे से एलर्जी है तो इसका सेवन बिलकुल न करें.

2. विटामिन ए से भरपूर चीजें- अस्थमा के मरीजों के खून में विटामिन ए (Vitamin A) की भी कमी हो जाती है जिससे फेफड़ों के फंक्शन प्रभावित हो सकते हैं इसलिए विटामिन ए से भरपूर फूड्स जैसे- सेब, गाजर, शकरकंद, ब्रोकली, पालक, लेटस आदि को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें. खासकर सेब और केला अस्थमा के खतरे को कम करता है और लंग फंक्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है.

3. मैग्नीशियम से भरपूर चीजें- पालक, कद्दू का बीज, डार्क चॉकलेट और सैल्मन मछली आदि चीजें मैग्नीशियम (Magnesium) से भरपूर होती हैं जो लंग्स को मजबूत बनाने में मदद करती हैं जिससे अस्थमा अटैक को रोकने और मरीजों की सेहत  बनाए रखने में मदद मिल सकती है.

ये भी पढ़ें- कई फायदों वाले अनानास को खाने के कुछ नुकसान भी हैं

अस्थमा के मरीज क्या न खाएं

1. सल्फाइट वाली चीजें- वाइन, ड्राई फ्रूट्स, अचार, बोतल बंद नींबू का रस, चेरीज, श्रिम्प- ये कुछ ऐसे फूड्स हैं जिनमें सल्फाइट (Sulfite) पाया जाता है. सल्फाइट युक्त चीजों का सेवन करने से अस्थमा के मरीजों के लक्षण और ज्यादा बिगड़ सकते हैं.

2. ऐसी चीजें जिससे गैस बने- गोभी, बीन्स, प्यास, लहसु, तली-भुनी चीजें, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स- इन चीजों को खाने या पीने से पेट में गैस (Stomach Gas)बनने लगती है और अस्थमा के मरीजों को ऐसी चीजें नहीं खानी चाहिए वरना उनका अस्थमा ट्रिगर हो सकता है और लक्षण गंभीर हो सकते हैं.

3. फास्ट फूड- 2013 में हुई एक स्टडी में यह बात सामने आयी कि जिन बच्चों और टीनएजर्स ने हफ्ते में 3 बार से अधिक फास्ट फूड (Fast Food) या जंक फूड का सेवन किया उनमें गंभीर अस्थमा होने का खतरा काफी बढ़ गया था. लिहाजा जहां तक संभव हो हेल्दी और घर के बने खाने का ही सेवन करें.

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

https://zeenews.india.com/hindi/health/changing-season-increases-asthma-patients-problem-foods-to-eat-and-avoid/850594

%d bloggers like this: