भास्कर इंटरव्यू: परिवहन मंत्री खाचरियावास बोले – राम किसी की बपौती नहीं, और अब तो राम भी भाजपा से नाराज हैं

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उदयपुरकुछ ही पल पहलेलेखक: स्मित पालीवाल

  • कॉपी लिस्ट

प्रताप सिंह खाचरियावास परिवहन मंत्री का दर्जा।

राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास शनिवार को उदयपुर पहुंचे। इस दौरान खाचरियावास ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। वही राम मंदिर निर्माण के नाम पर बीजेपी और आरएसएस द्वारा किए जा रहे धन एकत्रीकरण को चौथ वसूली करा दिया गया। इस दौरान दैनिक भास्कर से बातचीत में खाचरियावास ने कहा कि राम किसी की बपौती नहीं, और अब तो राम भी बीजेपी से नाराज है।

  • रेटेड की 4 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने जा रहे हैं। कांग्रेस की तैयारी कैसी है?

रेटेड में होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी की जीत होगी। उसकी वजह यह है कि आम जनता जब केंद्र की मोदी और प्रदेश की गेहलोत सरकार को एक तराजू में तोलेगी, तो जनता हकीकत जान जाएगी। मोदी सरकार झूठ, फरेब और तानाशाही की सरकार है। जबकि प्रदेश की गेहलोत सरकार न्याय, सत्य और विकास की सरकार है। गहलोत सरकार आम आदमी के दर्द और परेशानी को समझती है। यही कारण है कि कोरोना काल में भी प्रदेश की सरकार ने नंबर वन काम किया है।

  • विधानसभा नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया कहते हैं कि मुख्यमंत्री का आज के कमरे में बैठे हैं। 9 महीने से बाहर नहीं निकल रहा है?

कटारिया जी के मुंह से ऐसी बातें शोभा नहीं देती। कांच के कमरे में तो कटारिया जी बैठे हैं। गहलोत साहब तो जनता के बीच में भी जा रहे हैं, और जनता के काम भी कर रहे हैं। कोरोना काल के बाद हिंदुस्तान में भी अब सबसे अच्छे मुख्यमंत्री के तौर पर गेहलोत साहब की पहचान बनी हुई है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मुख्यमंत्री गेहलोत की तारीफ की है।

  • क्या नाराज कांग्रेस में गुटबाजी हावी हो गई है। प्रदेश कांग्रेस वास्तव में कई गुटों में बैठ गई है?

अशोक गहलोत रेज के सर्वमान्य नेता हैं। इस बात में ना कोई अव्यवस्था है और ना ही कोई झूठ।

  • सचिन पश्चिमी को लेकर दिए गए एक बयान के बाद आप के खिलाफ सोशल मीडिया पर कैंपेन चल रहा है। कहा जा रहा है कि अब आपलोग नहीं रहेंगे। क्योंकि आप सचिन पायलट खेमे से मंत्री थे?

यह बीजेपी के नेता जो बातें करते हैं। उनके पास जमीन नहीं है। और जिनके खुद के पास जमीन नहीं है। उनकी बातों का जवाब नहीं दिया जाता है। उनकी आदत है फालतू चीजों को करने की। बाकी जब जब होगा तब देखा जाएगा।

  • प्रताप सिंह खाचरियावास कांग्रेस पार्टी में किस गुट से है। सचिन पायलट या फिर अशोक गेहलोत?

कांग्रेस पार्टी में सिर्फ एक खेमा है, और वह खेमा है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी का।

  • वल्लभनगर में कांग्रेस पार्टी शतकवत के परिवार में ही टिकट देगी। या फिर नए चेहरे को मौका मिलेगा?

वल्लभनगर में आज मैंने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की है। वल्लभनगर में जो भी हाथ का सिंबल बारे में वही जीतगा। और कांग्रेस पार्टी जिसको भी टिकट देगी वह लड़ेगा।

  • आपने राम मंदिर चंदे के नाम पर बीजेपी और आरएसए पर उगाही के आरोप लगाए हैं। इसकी क्या वजह है?

राम हमारे आराध्य हैं, हम भगवान राम के वंशज हैं। भगवान राम का मंदिर तो एक खाता नंबर देने से ही बन जाएगा। बीजेपी को राम के नाम पर राजनीति करने का कोई अधिकार नहीं है। बीजेपी के किए गए काम को भगवान राम भी कभी नहीं करेंगे। सुप्रीम कोर्ट का फैसला भी भगवान राम के चाहने से आया है। बीजेपी को राम मंदिर के नाम पर श्रेय लेने का हक नहीं है। मैं भी मेरी तनख्वा राम मंदिर निर्माण में दूंगा, चांदी की ईट दूंगा, दर्शन करने जाऊंगा। राम किसी की बपौती नहीं। राम किसी के गुलाम नहीं दुनिया के राम की गुलाम है।

लेकिन बीजेपी वालों को अलग-अलग रसीदें छपाकर झूठी राजनीति नहीं करनी चाहिए। बीजेपी अपराध बोध से ग्रस्त है। और सिर्फ राम के नाम पर राजनीति कर रही है। जबकि राम मंदिर के ताज राजीव गांधी ने खुलवाए थे। अयोध्या में पूजा राजीव गांधी ने शुरू करवाई थी। बीजेपी को मंदिर और राम से सिर्फ वोट से मतलब है। अब तो राम जी भी बीजेपी से नाराज है।

%d bloggers like this: