India

राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बनने पर आखिर क्यों ट्रेंड हुआ #ReimburseMyKajuKatli

नई दिल्ली: गांधी परिवार समर्थक और बागी नेताओं के बीच लंबी खींचतान के बाद आज कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक में तय हो गया कि सोनिया गांधी ही कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष में बनी रहेंगी. पार्टी में नया अध्यक्ष चुने जाने तक उन्होंने इस पद पर बने रहना स्वीकार कर लिया.

हालांकि सुबह जब CWC की बैठक शुरू हुई तो सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद छोड़ने की बात कहकर सबको चौंका दिया. जिसके बाद से अटकलें लगाई जाने लगीं कि केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी दोबारा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन जाएंगे. लेकिन शाम तक कुछ और ही फैसला हुआ और राहुल गांधी दोबारा अध्यक्ष नहीं बन पाए.

इस बीच ट्विटर पर लोगों ने राहुल गांधी के दोबारा अध्यक्ष नहीं बनने पर #ReimburseMyKajuKatli हैश टैग पर ट्वीट किया और चटकारे लेते हुए दिखाई दिए.

सूत्रों के मुताबिक खबर है कि राहुल गांधी ने CWC की बैठक में ये भी कहा कि जब सोनिया गांधी अस्पताल में थीं और राजस्थान में सरकार संकट में थी तब ये चिट्ठी लिखने का क्या मतलब था. इसका सीधा फायदा बीजेपी को पहुंचाना था. हालांकि राहुल गांधी ने इन नेताओं के बीजेपी से मिले होने की बात कही या नहीं इसको लेकर रणदीप सुरजेवाला का खंडन बाद में आया कि उन्होंने ऐसा नहीं कहा.

भले ही गांधी परिवार एक बार फिर कांग्रेस के अंदर अपनी सुप्रीम लीडरशिप को बचाने में कामयाब रहा लेकिन पार्टी में उनके खिलाफ उठ रही आवाजें उजागर हो गई हैं. कांग्रेस के 23 वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी में आतंरिक सुधार और ज्यादा क्षमतावान अध्यक्ष चुने जाने की मांग को लेकर सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी. जिसके बाद आज सोमवार को कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक बुलाई गई थी.

Source link

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: