World

श्रम कानूनों के उल्लंघन पर अमेरिका ने इस कंपनी के खिलाफ उठाया यह कड़ा कदम

वॉशिंगटन: कोरोना महामारी (Coronavirus) के बीच ट्रंप प्रशासन ने श्रम कानूनों के उल्लंघन के आरोप में मलेशिया की कंपनी से सर्जिकल दस्ताने के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है. प्रशासन का कहना है कि मलेशिया की ‘टॉप ग्लोव’ से जुड़ी सहायक कंपनी ने श्रम कानूनों का उल्लंघन किया है और इसके पर्याप्त सबूत मौजूद हैं, इसलिए आयात पर बैन लगाया गया है.

अमेरिकी सीमा शुल्क और सीमा सुरक्षा (US Customs and Border Protection-CBP) विभाग ने फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि प्रतिबंध मैन्युफैक्चरिंग प्रक्रिया में जबरन श्रम के पर्याप्त सबूतों के आधार पर लगाया गया है. इस बीच, टॉप ग्लोव ने कहा कि कंपनी अपने उत्पादों को शिप करना जारी रखेगी, लेकिन फिलहाल इसे मुक्त व्यापार क्षेत्र में ही रखेगी, जब तक कि मामला सुलझ नहीं जाता. 

ये भी पढ़ें: चीन को लगने वाला है एक और बड़ा झटका, Amazon कड़ा कदम उठाने की तैयारी में

कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष टैन श्री लिम वी चाई (Tan Sri Lim Wee Chai) ने कहा, ‘हमारा सामान मुक्त व्यापार क्षेत्र में रहेगा, यदि CBP विवाद (भर्ती शुल्क) सुलझाने के लिए तैयार होता है, तो वे शिपमेंट जारी कर सकते हैं अन्यथा शिपमेंट लैटिन अमेरिका, कनाडा और यहां तक कि मध्य पूर्व के देशों को भेजा जा सकता है’.

अमेरिका ने टॉप ग्लोव कॉर्प से जुड़ी दो सहायक कंपनियों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है. अमेरिकी सीमा शुल्क और सीमा सुरक्षा ने कहा है कि इन कंपनियों के संबंध में कई शिकायतें मिली हैं. जिनमें अत्यधिक ओवरटाइम, पहचान दस्तावेज जब्त करना, अपमानजनक और बेहद खराब कामकाजी माहौल प्रमुख हैं. 

मलेशियाई कंपनी सालाना अरबों सर्जिकल दस्तानों का उत्पादन करती है और कोरोना महामारी के मद्देनजर उसके दस्तानों की मांग में जबरदस्त इजाफा हुआ है. टॉप ग्लोव अब पेरू और ब्राजील सहित लैटिन अमेरिका में वायरस की चपेट में आने वाले देशों तक पहुंचने की योजना पर काम कर रही है. अमेरिकी सरकार ने आयात रोकने का फैसला ऐसे समय लिया है जब देश में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है. 

VIDEO :

https://zeenews.india.com/hindi/world/us-sanctions-malaysias-surgical-glove-maker-over-forced-labour-amid-coronavirus-pandemic/712800

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: