India

Covid-19 को रोकने के लिए जारी हुई गाइडलाइन, दुकानदार रहें सावधान

नई दिल्लीः स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में कोविड-19 के 38,772 नए मामले आए और 45,333 और मरीज स्वस्थ हो गए हैं. देश में अब तक 88,47,600 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं. मंत्रालय ने कहा, ”स्वस्थ होने वाले मरीजों और उपचाराधीन मरीजों की संख्या के बीच अंतर बढ़ रहा है.” देश में 4,46,952 मरीजों का उपचार चल रहा है जो कि संक्रमण के कुल मामलों का महज 4.74 प्रतिशत है. इसी बीच कोविड-19 की रोकथाम के लिए स्वास्थ मंत्रालय की ओर से बाजारों के लिए गाइडलाइन भी जारी की गई हैं. 

रिटेल और होलसेल मार्केट के लिए SOP
दरअसल, मार्केट प्लेस पर भारी भीड़भाड़ के चलते कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा रहता है जिसे ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने एसओपी (Standard operating procedure) जारी किया है. आपको बता दें कि ये गाइडलाइन रिटेल और होलसेल मार्केट दोनों पर लागू होती है. SOP के तहत स्कंटेंनमेंट जोन से बाहर की मार्केट खोलने की इजाजत दी गई है. हेल्थ मिनिस्ट्री नई गाइडलाइन की जानकारी अपने आधिकारिक ट्विटर पेज पर भी दी है.

इन्हें दी गई घर पर रहने की सलाह
स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडनाइन में 65 साल से ज्यादा उम्र के लोग को घर पर रहने ही सलाह दी गई है. इसके अलावा उन्हें भी घर पर रहने को कहा गया है जो गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं. नई गाइडलाइन में गर्भवती महिलाएं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को भी घर से बाहर न निकलने को कहा गया है. इन गाइडलाइन को लेकर इंफोर्समेंट एजेंसियों को समुचित कदम सुनिश्चित करने को कहा गया है. स्वास्थ्य मंत्री खुद भी हर रोज लोगों से कोविड-19 को हल्के में न लेने की सलाह देते हैं.

SOP का पालन नहीं करने पर लगेगा जुर्माना
स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन में मास्क/फेस कवर या फिर फिजिकल डिस्टेंसिंग न मानने वालों पर जुर्माना/दंड देने का प्रावधान है. SOP के अनुसार, जिन बाजारों में कोरोना के केस बड़ी संख्या में दर्ज हों उन्हें बंद करने के आदेश दिए गए हैं. साथ ही जहां पर मार्केट खोलने की अनुमति है वहां दुकानदारों को दुकानों के अंदर 6 फीट की दूरी सुनिश्चित करने को कहा गया है. बाजारों में फिजिकल डिस्टेसिंग मेंटेन कराने के लिए कर्मचारियों की तैनाती होगी. 

 

Source link

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: