India

Farmer’s Protest: सिंघु बॉर्डर पर बैठकों का दौर जारी, किसानों ने कहा- सशर्त बातचीत का फैसला नामंजूर

नई दिल्ली : किसान बिलों को लेकर पंजाब के किसान दिल्ली की सीमा पर डंटे हुए हैं. इस दौरान सिंघु बॉर्डर पर 30 किसान संगठनों की मीटिग हुई है. पहले राउंड की खत्म हो गई है और इस दौरान ये तय हुआ कि अभी सारे किसान बॉर्डर यानी सीमावर्ती इलाको में डटे रहेंगे. 

सिंघु बॉर्डर पर मीडिया से होगी चर्चा
आंदोलनकारी किसान आज मीडिया से भी बात कर सकते है. किसानों का ये संवाद सिंघु बॉर्डर पर होगा. 

सशर्त मुलाकात पर नाराजगी
किसानों ने कहा कि जिस तरह देश के ग्रह सचिव की कल रात चिठ्ठी आई थी और उसमें गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के बयान के हवाले से जो शर्तों लिखी हैं वो स्वीकार्य नहीं हैं. किसानों ने कहा कि सरकारी शर्तों में सड़कें खाली करो.  बुराड़ी आओ, तब हम आपसे बातचीत करेंगे इस तरह की सशर्त बातचीत का प्रस्ताव किसानों ने ना मंजूर कर दिया है. 

संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई कमेटी
संयुक्त किसान मोर्चा में देश के 450 किसान संगठन शामिल है उन सभी ने एक साथ मिलकर 7 सदस्यों की कमेटी बनाई है. जो सरकार से बातचीत और अन्य विषयों पर फैसला लेगी.

ये भी पढ़ें- मजलिस और टीआरएस में ईलू ईलू, हैदराबाद को निजाम कल्‍चर से मुक्‍त करेंगे: अमित शाह

राशन के लिए खोला रास्ता

सिंघु बॉर्डर पर पुलिस ने जहां बेरिकेटिंग लगाई थी वहां छोटा सा हिस्सा खोला गया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक जो किसान धरने पर बैठे हैं उनका राशन खत्म हो रहा है तो इनके समर्थक इनके लिए खाना पानी जो लेकर आ रहे हैं उनके लिए ये रास्ता खोला गया है ताकि उनको खाना पहुंचाने में दिक्कत न हो. 

मीटिंग का दौर लगातार जारी
पुलिस ने ये भी कहा कि अगर किसान बुराड़ी जाना चाहते हैं जहां प्रशासन ने उन्हें विरोध प्रदर्शन के लिए जगह दी है वहां वो जा सकते हैं. हम खुद सभी को ले जाने के लिए तैयार हैं. वहीं किसानों की बैठकें लगातार जारी है.

LIVE TV

Source link

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: