Sports

IND vs AUS: नस्लीय टिप्पणी के मामले में Mohammed Siraj के सपोर्ट में Nathan Lyon

ब्रिसबेन: भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच खेला गया तीसरा टेस्ट विवादों से भरा रहा. इस मैच के तीसरे और चौथे दिन भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) पर कथित रूप से नस्लीय टिप्पणी (Racial Comments) की गई जिसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को माफी मांगनी पड़ी.

ऑस्ट्रेलिया के ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन (Nathan Lyon) ने कहा है कि दर्शकों के खराब बर्ताव की निंदा करके भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) ने नए मानदंड कायम किए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि क्रिकेट का खेल सभी के लिये है और इसमें किसी तरह के नस्लवाद की जगह नहीं है.

यह भी पढ़ें- मोहम्मद सिराज पर नस्लीय टिप्पणी का मामला: भारतीय क्रिकेट फैन के दावे से कहानी में आया नया ट्विस्ट

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (Sydney Cricket Ground) पर मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) को चौथे और 5वें दिन दर्शकों की नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ा. इसके बाद भारतीय टीम ने आईसीसी के पास शिकायत दर्ज कराई.

लॉयन ने एक वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा,‘खेल में किसी तरह की नस्लीय छींटाकशी (Racial Abuse) की गुंजाइश नहीं है. लोगों को लगता है कि वो मजाक कर रहे हैं लेकिन इससे लोगों पर अलग तरह से असर पड़ सकता है. क्रिकेट का खेल सभी के लिए है और इसमें नस्लवाद (Racism) की कोई जगह नहीं है.’

उन्होंने कहा,‘अगर आपको लगता है कि मैच अधिकारियों से शिकायत करने की जरूरत है तो करनी चाहिए. आजकल मैदान पर इतने सुरक्षाकर्मी होते हैं कि नस्लीय टिप्पणी करने वालेां को तुरंत निकाल बाहर किया जा सकता है. इससे मैच अधिकारियों से शिकायत का चलन भी बनेगा.’ सिराज को स्क्वेयर लेग सीमा पर दर्शकों ने ‘मंकी ’ और ‘ब्राउन डॉग’ कहा. सुरक्षाकर्मियों ने इन दर्शकों को मैदान से बाहर कर दिया.

नाथन लॉयन (Nathan Lyon) ने कहा,‘इससे घटना की शिकायत का चलन कायम होगा. ये खिलाड़ी पर निर्भर करता है कि वह शिकायत करना चाहता है या नहीं.  मैं उम्मीद करता हूं कि आइंदा लोग इससे उबरकर सिर्फ क्रिकेट देखने आएंगे और खिलाड़ियों को नस्लीय दुव्यर्वहार की चिंता नहीं करनी होगी.’
(इनपुट-भाषा)

https://zeenews.india.com/hindi/sports/cricket/ind-vs-aus-nathan-lyon-said-that-team-india-bowler-mohammed-siraj-has-set-new-standard-for-calling-out-racist-abuse/827222

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: