Cinema

Shweta Tiwari ने टूटी शादियों पर बयां किया दर्द, बोलीं- ‘पलक ने मुझे पिटते हुए देखा’

नई दिल्ली: टेलीविजन एक्ट्रेस श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) ने अपने बच्चों पर असफल शादियों के प्रभाव को लेकर खुलकर बात की है. श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) ने दो शादियां कीं और दोनों ही शादियां असफल रहीं. उन्होंने 19 साल की उम्र में राजा चौधरी से शादी की और दूसरी बार 2013 में अभिनव कोहली से शादी की, लेकिन दूसरी शादी भी लंबे समय तक नहीं चली. अब श्वेता ने बताया कि इन टूटते रिश्तों का उनके दोनों बच्चों पर कितना बुरा असर पड़ा है.  

हमेशा सुर्खियों में रहा श्वेता का निजी जीवन

श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) का निजी जीवन हमेशा ही सुर्खियों में रहा है, उन्होंने हाल ही में स्वीकार किया कि उन्हें लगता है कि उनके बच्चों ने इसका काफी खामियाजा भुगता है. श्वेता ने पुरुषों में अपनी बुरी पसंद के कारण बच्चों पर पड़े बुरे असर के बारे में खुलकर बात की. श्वेता ने बॉलीवुड बबल को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि यह उनकी गलती थी, बच्चों की नहीं तब भी बुरा असर उन्हें सहना पड़ा.

दर्द छिपाते हैं मेरे बच्चे

श्वेता तिवारी ने कहा, ‘मेरे दोनों बच्चों को अपना दर्द छुपाने की आदत है. वे किसी तरह मुझे यह नहीं दिखाते हैं कि वे दुखी हैं. मुझे समझ नहीं आ रहा है कि जब वे बहुत खुश हो रहे हैं तो वे दोनों कैसे खुश हैं. इसलिए मुझे लगता है कि वे छिपाने की कोशिश करते हैं. क्या मुझे उन्हें काउंसलर के पास ले जाना चाहिए और पता लगाना चाहिए कि क्या वे मुझसे अपनी भावनाओं को छिपाने की कोशिश कर रहे हैं? ‘ 

इसे भी पढ़ें: Shweta Tiwari की बेटी पलक से 13 साल बाद मिले पिता Raja Chaudhary, शेयर कीं इमोशनल Pics

पलक ने मुझे पिटते देखा 

आपबीती सुनाते हुए श्वेता कहती हैं, ‘पलक (श्वेता और राजा की बेटी) ने मुझे पिटते हुए देखा. उसने वह सब कुछ देखा, जब वह सिर्फ 6 साल की थी और मैंने यह कदम उठाने का फैसला किया था. पलक ने उस घटना के बाद, घर में आने वाली पुलिस और उसकी मां की ऐसी हालत को देखा है. वहीं मेरा बेटा रियांश (श्वेता और अभिनव का बेटा), वह अभी 4 साल का है और वह पुलिस, जजों के बारे में जानता है और यह सिर्फ मेरी वजह से नहीं है.’ 

और कोई रास्ता नहीं था

श्वेता ने आगे बताया कि कोई और रास्ता नहीं था. वह जानती थीं कि चाहे वह अपने बच्चों की सुरक्षा करना चाहती हो, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सकती थी. वह बोलीं, ‘क्योंकि मैं और कैसे कर सकती हूं, यह मेरे लिए खुद को बचाने का एकमात्र तरीका है. एक खुशहाल जीवन के लिए और जिस गंदगी में मैं हूं, उससे बाहर निकलने के लिए एक ही रास्ता है. वह है अपने बच्चों के साथ रहना. पुलिस के पास और अदालत में जाना. आज तक मैं समझ नहीं पा रही हूं कि मैं अपने बच्चों को इस स्थिति से कैसे बचाऊं.’

13 साल बाद मिले राजा चौधरी और पलक

आपको याद दिला दें कि राजा चौधरी ने हाल ही में अपनी बेटी पलक से 13 साल बाद मुलाकात की. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर अपनी तस्वीरें शेयर कीं. 

इसे भी पढ़ें: Ankita Lokhande ने होली के दिन बॉयफ्रेंड के छुए पैर, रंग से भर ली अपनी मांग

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें 

Source link

Show More

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: